change in up B.ed exam due to elections

उत्तर प्रदेश बीएड प्रवेश परीक्षा की तारीख में बदलाव हो सकता है। बता दें कि 11 अप्रैल, 2019 को पहले चरण के लोकसभा चुनाव हैं और इसी दिन यूपी बीएड की प्रवेश परीक्षा भी होनी है। इसी को देखते हुए रुहेलखंड विश्वविद्यालय में 11 मार्च, 2019 (सोमवार) को एडवाइजरी कमेटी की एक बैठक होनी है। इस बैठक मैं बीएड परीक्षा की तारीख को लेकर कुछ बदलाव किया जा सकता है। लोकसभा चुनाव के कारण एडवाइजरी कमेटी शासन से परीक्षा की अगली तारीख की मांग करेगी।

देश भर में लोकसभा चुनावोंं का ऐलान हो चुका है। इस साल लोकसभा चुनाव 7 चरणों में आयोजित होंगे। चुनाव आयोग ने रविवार को चुनाव की अधिसूचना जारी कर दी है, जिसमें चुनाव आयोग ने बताया है कि 11 अप्रैल, 2019 को लोकसभा के पहले चरण के चुनाव होने है। इस तारीख को देखते हुए विश्वविद्यालय प्रशासन बीएड प्रवेश परीक्षा की तारीख को लेकर सोच विचार करने लगा है। प्रशासन का कहना है कि चुनाव के दिन या चुनाव से पहले परीक्षा कराना संभव नहीं है। इसलिए प्रशासन अब चुनाव के बाद ही परीक्षा कराने पर बैठक कर रहे हैं। इस बैठक में यह निर्णय लिया जाएगा कि बीएड प्रवेश परीक्षा कब कराई जाए।

बीएड प्रवेश परीक्षा के स्टेट कॉर्डिनेटर प्रोफेसर बीआर कुकरेती ने बताया है कि लोकसभा चुनाव के कारण परीक्षा की तारीख को आगे बढ़ाना पड़ सकता है। परीक्षा की दूसरी तारीख का फैसला बैठक में लिया जाएगा। अगर परीक्षा की तारीख को आगे बढ़ाया जाता है तो हो सकता है परीक्षा के लिए आवेदन की तारीख को भी आगे बढ़ा दिया जाए। इस बात का फैसला भी सोमवार की बैठक में लिया जाएगा की आवेदन की तारीख को और आगे बढ़ाया जाए या नहीं। परीक्षा की तारीख में जो भी बदलाव होगा उम्मीदवारों को इसके बारे मे जल्द ही सूचित कर दिया जाएगा। यूपी बीएड प्रवेश परीक्षा के साथ विश्वविद्यालय में होने वाली परीक्षा को आगे बढ़ाना पड़ सकता है। 11 अप्रैल 2019 को सुबह की शिफ्ट में बी.ए. फर्स्ट ईयर का फिजिकल एजुकेशन और शाम की शिफ्ट में अर्थशास्त्र का का पेपर होना है।

यूपी बीएड परीक्षा के लिए आवेदन प्रक्रिया 11 फरवरी 2019 से शुरू हुई थी और 11 मार्च, 2019 को आवेदन प्रक्रिया समाप्त हो जाएगी। बीएड परीक्षा के लिए 3.5 लाख उम्मीदवारों ने आवेदन किये हैं और जिनमें से लगभग सभी उम्मीदवारों ने फीस भी जमा कर दी है। बीएड प्रवेश परीक्षा उत्तर प्रदेश के बरेली, मुरादाबाद, आगरा, अलीगढ़, मेरठ, गाजियाबाद, झांसी, आजमगढ़, इलाहाबाद, लखनऊ, कानपुर, वाराणसी, फैजाबाद, गोरखपुर, जौनपुर आदि इन सभी केन्द्रों पर आयोजित की जानी है। उत्तर प्रदेश की इन सभी जगहों पर वोटिंग भी होनी है।