यूजीसी नेट 2019 परीक्षा के लिए नोटिफिकेशन जारी

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने यूजीसी नेट 2019 के लिए नोटिफिकेशन जारी कर दिया है। UGC NET 2019 के लिए 01 मार्च 2019 से आवेदन शुरू हो जायेंगे और 30 मार्च 2019 तक चलेंगे। जो उम्मीदवार असिस्टेंट प्रोफेसर बनने के तैयारी कर रहें उनके लिए यह बहुत अच्छी खबर है। उम्मीदवार UGC NET 2019 के ntanet.nic.in की आधिकारिक वेबसाइट पर जा कर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। यूजीसी नेट 2019 के लिए परीक्षा का आयोजन 20, 21, 24, 25, 26, 27 और 28 जून 2019 को किया जायेगा। यूजीसी नेट परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड 15 मई 2019 को जारी कर दिए जायेंगे। यूजीसी नेट परीक्षा कम्प्यूटर आधारित आयोजित की जाएगी। बता दें कि UGC NET 2019 के रिजल्ट 15 जुलाई 2019 को घोषित कर दिए जायेंगे।

बता दें कि हाल ही में एनटीए ने यूजीसी नेट परीक्षा के सिलेबस में बदलाव किया है। एनटीए ने यूजीसी नेट परीक्षा के लिए दोनों पेपर के सिलेबस में 10-10 यूनिट शामिल किये है। अब यूजीसी नेट पेपर तीन को घटाकर दो कर दिया है। यूजीसी नेट के पहले पेपर में उम्मीदवारों से 50 सवाल पूछें जायेंगे वहीं दूसरे पेपर से 100 सवाल पूछें जायेंगे। उम्मीदवारों से पेपर एक में टीचिंग और रिसर्च पर आधारित प्रश्न पूछें जायेंगे वहीं दूसरे पेपर में उम्मीदवारों से विषय से जुड़े सवाल पूछें जायेंगे।

यूजीसी नेट परीक्षा का आयोजन पहले सीबीएसई द्वारा किया जाता था। पिछले साल से यूजीसी नेट परीक्षा की जिम्मेदारी नेशनल टेस्टिंग एजेंसी को सौप दी है । एनटीए यूजीसी नेट परीक्षा का आयोजन साल में दो बार करता है। जो उम्मीदवर यूजीसी नेट दिसंबर वाली परीक्षा में सफल नहीं हो पाते है वो उम्मीदवार यूजीसी नेट जून वाली परीक्षा दें सकते हैं। इससे उम्मीदवारों को यूजीसी नेट परीक्षा देने का साल में दो बार मौका मिल रहा है। बता दें कि यूजीसी नेट की परीक्षा वो उम्मीदवार दें सकते हैं जो पोस्ट ग्रेजुएशन कर चुके हैं या पोस्ट ग्रेजुएशन की फाइनल एग्जाम में बैठने वालें हैं।

यूजीसी नेट दिसंबर 2018 वाली परीक्षा का आयोजन 18 दिसंबर से 22 दिसंबर 2018 के बीच किया गया था। इस परीक्षा का आयोजन दो शिफ्ट में किया गया था। यह परीक्षा 84 विषयों पर आयोजित की गई थी। बताया जा रहा है कि इस परीक्षा का आयोजन देश भर के 91 शहरों में किया गया था। जानकारी के मुताबिक यूजीसी नेट 2018 वाली परीक्षा में असिस्टेंट प्रोफेसर के लिए देशभर से 44,001 उम्मीदवारों ने क्वालिफाई किया है वहीं जेआरएफ के लिए 3,883 उम्मीदवारों ने परीक्षा क्वालिफाई की है। जो उम्मीदवार यूजीसी नेट परीक्षा पास करते है उन उम्मीदवारों को पीएचडी में प्रवेश दिया जाता है। उम्मीदवार बिना नेट परीक्षा पास किए पीएचडी कोर्स में प्रवेश नहीं ले सकते हैं।

नाम अनिल कुमार है काम लिखना पसंद है ऐसे तो हम रहने वाले गोरखपुर (यूपी )के है लेकिन शुरू से दिल्ली को ही अपना निवास स्थान मान लिया है। मैंने दिल्ली यूनिवर्सिटी से बी.ए हिंदी (ऑनर्स) किया है और हिंदी जर्नलिज्म में पोस्ट ग्रेजुएशन भी दिल्ली यूनिवर्सिटी से किया है। मैंने नेटवर्क 18 और बोलता हिंदुस्तान वेब पोर्टल में इंटरशिप की है। इसके अलावा मैंने नवभारत टाइम्स और नवोदय टाइम्स में सोशल वर्क भी किया है। मेरी एनबीटी में करीब 50 से ज्यादा न्यूज़ प्रकाशित हो चुकी है वहीं नवोदय टाइम्स में करीब 25 न्यूज़ प्रकाशित हो चुकी है। मुझें 2017 में एनबीटी ने सिटीजन रिपोर्टर ऑफ वीक भी बनाया है। आप मेरे ईमेल आईडी [email protected] के माध्यम से सम्पर्क कर सकते हैं।