RRB यानि कि रेलवे रिक्रूटमेंट बोर्ड ने एक नया नोटिस जारी किया है। जिस नोटिस में यह जानकारी दी गई है कि जो छात्र रेल रोको आंदोलन के कारण RRB Group D का कम्प्यूटर बेस्ड टेस्ट नहीं दे पाए थे, उन छात्रों के पास उस परीक्षा को देने का एक और सुनहरा मौका है।जी हाँ आपने बिलकुल सही पढ़ा RRB (Group D) के वह उम्मीदवार जो 24.09.2018 को आयोजित किया गया कम्प्यूटर बेस्ड एग्जाम नहीं दे पाए थे उन्हें अब चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है। रेलवे भर्ती बोर्ड (RRB) ने परीक्षा की नई तारीखों से संबंधित एक नया नोटिफिकेशन जारी कर दिया है। परीक्षा से जुड़ी हर जानकारी नीचे लिखी हुई है। उम्मीदवार इन जानकारियों को ध्यान से पढ़ें।

गौरतलब है कि RRB Group D का कम्प्यूटर बेस्ड एग्जाम 24 सितम्बर 2018 को आयोजित किया गया था। पर साउथ-ईस्टर्न रेलवे पर ट्रैन सुविधा बाधित होने की वजह से बहुत से उम्मीदवार परीक्षा नहीं दे पाए थे। जिसके बाद रेलवे भर्ती बोर्ड ने परीक्षा देने के लिए नई तारीख का एलान किया है।RRB (Group D) की कम्प्यूटर बेस्ड परीक्षा अब 16 अक्टूबर के बाद आयोजित कराई जाएंगी।

उम्मीदवारों के लिए क्या हैं आगे के निर्देश ?

उम्मीदवारों को अब अपनी डिटेल्स (नाम, रजिस्ट्रेशन नंबर, जन्म दिनांक), ई-कॉल लेटर की कॉपी, ट्रेन की टिकट (अगर है तो) नीचे लिखी गई रेलवे भर्ती बोर्ड की वेबसाइट पर मेल करना होगा।आपकी यह सभी डिटेल्स वेरिफिकेशन के लिए मांगी जा रही हैं।उम्मीदवारों को परीक्षा की नई तारीख SMS द्वारा जल्द उनके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर सूचित की जाएगी।वह उम्मीदवार जो कम्प्यूटर बेस्ड परीक्षा नहीं दे पाए थे वह नीचे लिखे हुए मेल पर अपनी जानकारियां भेजना ना भूलें।

[email protected]

आपका यह भी जान लेना जरूरी है कि बता रेलवे भर्ती बोर्ड ग्रुप डी (Group D) के पदों पर भर्ती परीक्षा करा रहा है।इस साल पहली बार रेलवे भर्ती बोर्ड ने ग्रुप D के पदों पर कम्प्यूटर बेस्ड परीक्षा करवाई। बहुत से कयास लगाए जा रहे थे कि कम्प्यूटर बेस्ड परीक्षा देने में उम्मीदवारों को परेशानियां हो सकती हैं। पर जिन उम्मीदवारों ने परीक्षा दी उनका कहना था कि परीक्षा कम्प्यूटर बेस्ड होने की वजह से हमें कोई परेशानी नहीं आई, जिनसे उन सभी कयासों पर पूर्ण विराम लग गया।

क्या है RRB ग्रुप डी की परीक्षा का पैटर्न ?

इस साल से रेलवे भर्ती बोर्ड ने RRB ग्रुप डी की परीक्षा को कम्प्यूटर बेस्ड कर दिया है। इस परीक्षा में ऑब्जेक्टिव टाइप सवाल ही पूछे जाएंगे। इस परीक्षा को पूरा करने के लिए उम्मीदवारों के पास 90 मिनट का समय होगा।वहीं विकलांग उम्मीदवारों को इस परीक्षा को पूर्ण करने के लिए 120 मिनट दिए जाएंगे।

अक्षत पटेल एक साल से शिक्षा के क्षेत्र में सक्रिय हैं। वह शिक्षा से सम्बंधित सभी क्षेत्रों की जानकारी आप लोगों तक पहुंचाते हैं। इनकी शैक्षिक पृष्ठभूमि इंजीनियरिंग है। शिक्षा के क्षेत्र में प्रवेश करने से पूर्व इन्होने आईटी के क्षेत्र में भी हाथ आजमाए हैं। अगर आपको शिक्षा और नौकरी से सम्बंधित किसी भी प्रकार की दिक्कत है तो आप इनसे सम्पर्क कर सकते हैं।