बीएसटीसी प्रवेश परीक्षा की जिम्मेदारी बीकानेर नोडल एजेंसी को सौंपी

बेसिक स्कूल टीचर्स कोर्स की प्रवेश परीक्षा को लेकर नई-नई खबरें आ रही है। बताया जा रहा है कि इस साल राज्य सरकार ने बीएसटीसी प्रवेश परीक्षा का जिम्मा शिक्षा विभाग (बीकानेर नोडल एजेंसी) को सौंपा है। इससे पहले भी कार्यालय पंजीयक शिक्षा विभागीय परीक्षाएं बीकानेर ने 1998 में यह परीक्षा आयोजित करवाई थी। हर साल बीएसटीसी प्रवेश परीक्षा के लिए आवेदन प्रक्रिया फरवरी महीने से शुरू हो जाती है। लेकिन इस साल कनडक्टिंग बॉडी के चयन को लेकर बीएसटीसी प्रवेश परीक्षा के आवेदन प्रक्रिया में देरी हो रही है। मना जा रहा है कि बीएसटीसी प्रवेश परीक्षा को लेकर जल्द राजस्थान सरकार एक अहम फैसला ले सकती है।

गौरतलब है कि पिछले कुछ वर्षो से बीएसटीसी प्रवेश परीक्षा की जिम्मेदारी महर्षि दयानंद सरस्वती यूनिवर्सिटी, अजमेर के अंतर्गत दी जा रही थी। आपको बता दें कि शिक्षा मंत्रालय ने इस बार पीटीईटी और बीएसटीसी दोनों की जिम्मेदारी में प्रयोग किया है। इससे पहले बीएसटीसी प्रवेश परीक्षा बांसवाड़ा यूनिवर्सिटी द्वारा आयोजित की जाती थी। लेकिन इस साल राज्य सरकार ने सभी को चौंकाते हुए यह जिम्मेदारी निदेशक प्रारंभिक शिक्षा के अधीन संचालित कार्यालय पंजीयक शिक्षा, विभागीय परीक्षा बीकानेर को दे दी है। बीएसटीसी प्रवेश परीक्षा के लिए इस बार 323 कॉलेज अधीन आएंगे। जिसमें से 30 सरकारी कॉलेज होंगे और 293 निजी कॉलेज होंगे।

आपको बता दें कि पिछले साल बीएसटीसी प्रवेश परीक्षा के लिए आवेदन प्रक्रिया 12 फरवरी 2018 से शुरू होकर 31 मार्च 2018 तक चली थी। पिछले साल लाखों उम्मीदवारों ने बीएसटीसी प्रवेश परीक्षा के लिए आवेदन किया था। खबरों के मुताबिक पिछले साल बीएसटीसी प्रवेश परीक्षा का आयोजन बांसवाड़ा यूनिवर्सिटी के द्वारा किया गया था। लेकिन अब बीएसटीसी भी बीकानेर के ही हिस्से चली गई है। यह जिम्मेदारी बीकानेर स्कूल एजुकेशन डायरेक्टोरेट को दे दी गई है। अब अजमेर को बीएसटीसी प्रवेश परीक्षा में कोई भी हिस्से दारी नहीं दी जाएगी।

बीएसटीसी प्रवेश परीक्षा देने के लिए उम्मीदवार की आयु 28 साल से ज्यादा नहीं होनी चाहिए साथ ही साथ उम्मीदवार बाहरवीं कक्षा 50 प्रतिशत अंको के साथ पास होना चाहिए। उम्मीदवार बीएसटीसी प्रवेश परीक्षा के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। उम्मीदवारों से बीएसटीसी प्रवेश परीक्षा में मानसिक क्षमता से 50 प्रश्न, राजस्थान की सामान्य जानकारी से 50 प्रश्न, शिक्षण योग्यता से 50 प्रश्न, अंग्रेज़ी से 30 प्रश्न, हिंदी से 30 या संस्कृत से 30 प्रश्न पूछें जायेंगे। उम्मीदवारों से बीएसटीसी प्रवेश परीक्षा में कुल 200 प्रश्न पूछें जायेंगे। उम्मीदवारों को प्रत्येक प्रश्न के लिए 3 अंक दिए जायेंगे। बता दें कि बीएसटीसी प्रवेश परीक्षा में उम्मीदवारों की कोई नेगेटिव मार्किंग नहीं की जाएगी। अंत में उम्मीदवारों का चयन कट ऑफ के अनुसार किया जायेगा।

नाम अनिल कुमार है काम लिखना पसंद है ऐसे तो हम रहने वाले गोरखपुर (यूपी )के है लेकिन शुरू से दिल्ली को ही अपना निवास स्थान मान लिया है। मैंने दिल्ली यूनिवर्सिटी से बी.ए हिंदी (ऑनर्स) किया है और हिंदी जर्नलिज्म में पोस्ट ग्रेजुएशन भी दिल्ली यूनिवर्सिटी से किया है। मैंने नेटवर्क 18 और बोलता हिंदुस्तान वेब पोर्टल में इंटरशिप की है। इसके अलावा मैंने नवभारत टाइम्स और नवोदय टाइम्स में सोशल वर्क भी किया है। मेरी एनबीटी में करीब 50 से ज्यादा न्यूज़ प्रकाशित हो चुकी है वहीं नवोदय टाइम्स में करीब 25 न्यूज़ प्रकाशित हो चुकी है। मुझें 2017 में एनबीटी ने सिटीजन रिपोर्टर ऑफ वीक भी बनाया है। आप मेरे ईमेल आईडी [email protected] के माध्यम से सम्पर्क कर सकते हैं।